Join Our Telegram Group Join Now
Join Our WhatsApp Group Join Now

इन 3 पेड़ की खेती करके गारंटी के साथ आप कर सकते है करोड़ों की कमाई, ये मौका हाथ से न गवाएं

Business Idea For Farmers: अगर आप अच्छी कमाई करना चाहते है तो इन पेड़ो कि खेती कर सकते है इन पेड़ो की खेती से आप अच्छा मुनाफा कमा सकते है किसान इसके लिए पारंपरिक खेती छोड़कर ऐसे अनेक उपाय कर रहे है जिससे उनको अच्छा मुनाफा भी हो रहा है किसान ऐसे अनेक पेड़ लगाकर अच्छी खासी कमाई भी कर रहे है.

इन 3 पेड़ की खेती करके गारंटी के साथ आप कर सकते है करोड़ों की कमाई

आजकल किसान पारंपरिक खेती से अच्छा मुनाफा नही कमा पाते है आज के दौर में खेती में मुनाफा कम होता जा रहा है जिससे की किसानो का विकास संभव नही है जिसके लिए किसानो ने नये तौर तरीके अपना लिए है अब किसान कमाई वाले पेड़ो की खेती करने लगे है जिससे उनके आय के स्त्रोत में बढ़ोतरी होना लगी है.

कई राज्यों में किसान इन पेड़ो की खेती करके अमीर भी बन गये है जिनकी कमाई करोडो रूपए में है इनमे कई तरह के पेड़ है जैसे सफेदा, महोगनी, सागवान, गम्हार, चंदन, तेंदुपत्ता आदि ऐसे पेड़ है जिनकी खेती से किसान अच्छा खासा पैसा कमा सकते है.

इसे भी देखे: खजूर की खेती का करें बिज़नेस 75 प्रतिशत की सब्सिडी मिल रही है खजूर की खेती पर , तुरंत मिलेगा लाभ

सागवान के पेड़ की खेती

इस पेड़ की खेती में किसान को कई वर्षो तक का लम्बा धैर्य रखना पड़ता है क्यूकि इसकी खेती 15 से 20 साल के अंतराल में पूरी होती है सागवान के पेड़ की लकड़ी बहुत ही कार्यो में उपयोग में आती है इसकी लकड़ी को हम फर्नीचर में उपयोग में लेते है.

इसके अलावा खिड़कियाँ, चोखट, पानी के जहाज में, लकड़ी की नाव बनाने में, रेल के डिब्बे बनाने में भी इस पेड़ की लकड़ी का इस्तेमाल किया जाता है तथा इस पेड़ के पत्तो का भी औषधीय रूप से उपयोग किया जाता है जैसे की माइग्रेन दर्द में, इचिंग और ब्लड बाइल्स में सागवान के पत्तों से राहत मिलती है.

सागवान के पेड़ को 20 से 30 हजार रूपए प्रति इकाई की हिसाब से बेचा जा सकता है तथा एक एकड़ में हम सागवान के 500 पेड़ तक लगा सकते है इस तरह से सागवान के पेड़ की खेती करके आप करोडपति बन सकते है.

सफेदा के पेड़ की खेती

इसके अंतर्गत सफेदा के पेड़ से भी कमाई की जा सकती है इसका उपयोग भी कई चीजो में किया जाता है जैसे फर्नीचर बनाने, ईंधन में व कागज की लुगदी बनाने में भी किया जाता है सफेदा के पेड़ को यूकेलिप्टस भी कहा जाता है.

इसका उपयोग फर्नीचर व डिज़ाइनर लकडियो के तौर पर काफी उच्च स्तर तक किया जाता है एक एकड़ जमीन में सफेदा के 3000 पेड़ तक लगाये जा सकते है यह पेड़ 5 साल में कम्पलीट होकर बिकने के लिए तैयार हो जाता है.

किसान 5 साल बाद इसकी कटाई करके बेक सकते है किसान इसको 5 साल बाद 70 से 80 लाख रूपए तक बेच सकते है और अच्छा मुनाफा कमा सकते है.

महोगनी के पेड़ की खेती

यह पेड़ भी डिजाइनिंग लकडियो के लिए बहुत फेमस है इस पेड़ से अच्छी क्वालिटी की लकड़ी प्राप्त होती है इससे लकडियो के सजावटी सामान भी बनाये जाते है इसकी पत्तियों को भी उपयोग में लिया जाता है.

इसकी पत्तियों व बीजो से तेल का निर्माण किया जाता है यह तेल कीटनाशक दवाई बनाने व मच्छर भागने वाली दवाई बनाने के काम आती है इसके बीज भी बाजार में 1 हजार रूपए प्रतिकिलो के हिसाब से बिकते है.

एक एकड़ में महोगनी के 1100 पेड़ लगाये जा सकते है इसका एक पेड़ 20 से 25 हजार रूपए तक बिकता है इसका एक पेड़ 12 साल में जाकर बिकने के लिए तैयार होता है इस प्रकार किसान 12 से 15 साल में करीब 2 करोड़ रूपए तक कम सकता है.

जरुर देखे: Kisan Tractor Update सरकार दें रही 5 लाख रुपए ट्रैक्टर खरीदने हेतु जल्दी से करें अपना आवेदन

इसी तरह की और जानकारी देखने के लिए हमारे न्यूज़ पेज indiagovtyojana.com को बुकमार्क करे.

Leave a Comment